Sunday August 19, 2018
234x60 ads

सुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वाल

सुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वाल
सुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वालसुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वालसुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वाल
सुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी

नई टिहरी-चम्बा मोटर मार्ग पर नई टिहरी से लगभग ३ किलोमीटर बाद सुरसिहं धार पर मुख्य मार्ग से एक संकरी सी सड़क नीचे ढाल की तरफ जाती है इसी सड़क पर लगभग डेढ़ किलोमीटर चलने के बाद ग्राम कण्डा (सारजूला पट्टी, विकासखण्ड चम्बा) में सड़क के किनारे बांज का एक बहुत ऊंचा पेड़ दिखाई देता है इसी पेड़ के नीचे स्थित है सुरसिंह देवता का मन्दिर। मन्दिर के पुजारी श्री प्रेम सिंह चौहान जी के अनुसार मान्यता है कि यह मन्दिर लगभग ३०० वर्ष से अधिक पुराना है और यह असाधारण बांज का वृक्ष भी मन्दिर की स्थापना के समय ही लगाया गया था। पुजारी जी के अनुसार पहले इस स्थान पर एक छोटा सा मन्दिर हुआ करता था लेकिन वर्ष २००५ में मन्दिर का जीर्णोद्धार करके नये भव्य मन्दिर का निर्माण किया गया। पुजारी जी ने इस मन्दिर के किसी पौराणिक महत्व से अनभिज्ञता जताई लेकिन स्थानीय लोगों में सुरसिंह देवता को क्षेत्रपाल रक्षक के रूप में पूजा जाता है। सुरसिंह देवता ग्राम बडोगी के चौहान जाति के लोगों के इष्ट देवता है। मन्दिर में प्रवेश करते ही पहले एक हालनुमा बड़ा कमरा पड़ता है उसके बाद अन्दर गर्भगृह में सुरसिहं देवता की मूर्ति स्थापित है। इसके अलावा मन्दिर के अन्दर मां दुर्गा की एक सुन्दर मूर्ति स्थापित है। मुख्य मन्दिर के ठीक पीछे भैरव देवता का एक छोटा सा मन्दिर है।

ग्राम बडोगी के निवासियों के द्वारा मन्दिर के उचित व्यवस्था प्रबन्धन हेतु "सुरसिंह मन्दिर समिति" नाम से एक कार्यकारिणी की स्थापना की गई है। मन्दिर के पास ही बैशाख मास की १७-१८ गते को एक छोटे से मेले का आयोजन किया जाता है जिसमें आस-पास के क्षेत्र से श्रद्धालु आकर दर्शन करके कृतार्थ होते है। मन्दिर परिसर से नई टिहरी तथा गिरिराज हिमालय की कुछ पर्वत श्रृंखला दृष्टिगोचर होती है।



फोटो गैलरी : सुरसिंह मन्दिर, कण्डा, नई टिहरी टिहरी गढ़वाल

Comments

Leave your comment

Your Name
Email ID
City
Comment
     

Nearest Locations

Success